What is Superset and How to use it ? Barbell55 ।

Sharing is caring ❤️

What is Superset and How to use it :-आप भी Regular gym जा रहे है और अब आपको अपने Workout से Result नहीं मिल रहे है तो आपको अपने Workout मे बदलाव करना चाहिए ।

ऐसे मे Superset एक बहोत ही अच्छी technique है अपने Workout मे कम समय मे ज्यादा Intensity लाने के लिए ।

इसलिए आज के इस Blog मे हम आपको बताएगे की Superset क्या है, इसके क्या फायदे और नुकसान है और इसके कितने प्रकार है?

What-is-Superset-and-how-to-use-it

यह सब जानने के लिए इस blog को पूरा पढ़िए ।

What is Superset ?

Super set मे आप 2 exercise back to back लगाते है यानि एक exercise लगाने के तुरंत बाद दूसरी exercise लगाते है ।
इन दोनों exercise के बीच मे आप कोई Rest नहीं लेते । जब आप दोनों exercise लगा लेते है उसके बाद 1-3 minute तक का rest लेते है ।

Example :- आप Bicep curls लगाने के तुरंत बाद Tricep skull crusher लगाते है । फिर 2 minute का rest लेंगे । इस तरह से आपका एक Superset complete होगा ।

Read :- How to Choose Right Workout Plan in Hindi |

Benefits Of Superset |

Decreased Total Workout Time

इसे लगाने से आपका Workout Time कम होता है । अगर आपके पास भी Workout के लिए समय की कमी है तो आप अपने Workout मे इस  को add कर सकते है जिससे आपका Workout time कम होगा ।

जब आप Normal Set लगाते है तो आप एक ही exercise का एक set लगाने के बाद 1-2 minute का rest लेते है ।

जबकि आप superset लगाते है तो आप 2 exercise back to back लगाने के बाद 1-2 minute का rest लेते है । इस तरह से आपका Rest time कम होता है । जिससे आपका Total Workout time भी घटता है ।

Increased Workout Intensity

Superset लगाने से आपके Workout मे Intensity बढ़ती है जो आपको Muscle building और Fat loss दोनों मे help करता है ।

Disadvantages of Superset

Drop in Strength

अगर आप के Goal strength increase करना है तो आपके लिए कभी भी Superset Best Option नई हो सकता ।

क्योंकि इस  मे आप का Rest period कम होता है इसलिए आप सही से Recover नहीं हो पते और Heavy weight lift नहीं कर सकते ।

drop in performance and compromised technique.

अगर आप Begginer है और अपने Workout मे Superset का इस्तेमाल करते है तो कुछ cases मे आपकी Performnce और Technique मे Compromise हो सकता है ।

Read :- What is High intensity interval training (HIIT) in hindi | Best HIIT workout |

Types of Superset

PRE-EXHAUSTION SUPERSET

इस तरह के Superset मे same muscle की दो exercise लगाते है । आप पेहले Isolation exercise करते है और उसके तुरंत बाद Compound exercise करते है ।

Example :- अगर आप Chest का Workout कर रहे है तो पेहले आप Cable Flys लगाएगे उसके तुरंत बाद Bench press लगाएगे ।

ऐसा करने से आप Bench press मे ज्यादा weight तो नहीं उठा पाएंगे लेकिन आप अपनी Chest के ज्यादा फाइबर activate कर पाएंगे ।

POST-EXHAUSTION SUPERSET

यह type Pre exhaustion Superset से उल्टा है । इसमें भी आप Same muscle group की दो exercise ही लगाते है लेकिन आप पेहले Compund exercise लगाते है उसके बाद Isolation exercise लगाते है ।

Example :- Squats लगाने के तुरंत बाद आप Leg extension लगाएगे ।

COMPOUND SUPERSET

इस type  मे आप दो Compound exercise लगाते है वो भी Heavy weight से ।

इस Type  मे आपको ज्यादा Strength और Energy की जरूर पडती है । इसलिए इस को advance lifters ही use करते है ।

Example :- 1A. Incline Bench press
1B. Dumbbell Bench press

ISOLATION SUPERSET

Compound Superset मे आप दो Compound exercise लगाते  है वैसे इसमें आप दो Isolation exercise  करते है ।

Example :- 1a. Dumbbell Curls
1b. Dumbbell Hammer Curls

OPPOSING MUSCLE GROUP SUPERSET

यह बहोत ही Comman type  है । इसमें आप दो Opposite muscle group को एक साथ train  करते है । जैसे की Chest और Back, Bicep और Tricep, Quads और Hamstring etc ।

इस का फायदा यह है की जब आप एक muscle को target करते है तब दूसरा muscle Rest करता है ।

Example :- 1a. Barbell curls
1b. Tricep Skull Crushers

Download Our Workout Program E book

Conclusion :- अगर आपको Superset के बारे
मे हमारी यह जानकारी पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ share करें । अब भी आपका कोई सवाल हो तो हमें comment करके पूछ सकते है ।

Leave a Reply